Top

लेख

  • फीटल काफ़ सीरम : अपने जीवन के लिए इंसान की क्रूरता

    जो दानव गाय को माता नही, भोजन मानते हैं वो आज यह भी जान लें और स्वयम चिंतन करें कि माँ की और कितनी परीक्षा लेनी है !! फीटल काफ़ सीरम : वैज्ञानिक लोग इसको शार्ट में FCS बोलते हैं। विज्ञान का कोई भी एक्सपेरिमेंट करना हो, कोई भी दवाई बनानी हो, लाइफ साइंस में कोई भी PhD करनी हो, सेल कल्चर लैब में जाकर...

  • पाताल लोक: हिन्दू धर्म के प्रति अतृप्त कुंठा की कहानी

    अमेज़ोन प्राइम पर हाल ही में रिलीज़ हुई पाताल लोक नामक वेब सीरीज़ को अभी बाज़ार में आए मात्र चंद दिन ही हुए थे और देखते ही देखते अनुष्का शर्मा द्वारा निर्मित ये सी रीज़ खबरों में खूब छा गई और ऐसा तो होना ही था, आखिर विवादित चीज़े जल्दी ही सुर्खियां जो बटोरती है। आपको बता दें कि सुदीप शर्मा द्वारा लिखित...

  • "काफिर" कौन है ?

    ये ऐसा प्रश्न है जो गैर-मुस्लिमों के लिए लगभग 1400 वर्षों से अनुतरित है।काफ़िर के अर्थ पर मौलाना लोग और अक्सर मुस्लिम विद्वान सफ़ेद झूठ बोलते हुए पहले तो इस बात से साफ़ इंकार कर देते हैं कि काफिर से मुराद हिन्दू, ईसाई या यहूदी है; फिर दूसरा झूठ ये बोलते हैं कि काफ़िर 'नास्तिक' को कहतें हैं। ये लोग सफ़ेद...

  • "हरी सिंह नलवा" एक बाहुबली का स्मरण

    1699 में जब पिता दशमेश ने 'खालसा' सजाई थी तो उसके साथ विजय हुंकार करते हुए कहा था 'राज करेगा खालसा, आक़ी बचे न कोई'। पिता दशमेश के इस 'जयघोष' के संकल्प को मूर्त रूप देने को प्रस्तुत हुए 'बाबा बंदा सिंह बहादुर' और 'हरिसिंह नलवा'। एक ने उत्तर भारत के एक बड़े हिस्से जो 'देबबंद' से शुरू होकर 'कश्मीर' तक ...

  • #SelfieWithBajrangBali "हनुमान जयंती" पर विशेष

    कुछ वर्ष पूर्व कर्नाटक के रहने वाले 'करण आचार्य' ने 'क्रोधित हनुमान' की एक पेंटिंग बनाई थी, जिसकी प्रशंसा प्रधानमंत्री 'श्री नरेन्द्र मोदी जी' ने भी की थी और उनके द्वारा प्रशंसा किये जाने के बाद अचानक यह पेंटिंग देश भर में सुर्खियों में आ गया था।OLA-UBER समेत निजी वाहन वाले हनुमान जी की इस तस्वीर को ...

  • "तबलीगी जमात" मुस्लिमों का कट्टरवादी चेहरा

    70 वर्षों से देश मे तबलीगी जमात जैसे संगठन भी चल रहे थे।। लेकिन देश को अब पता चला। क्योंकि कांग्रेस, मीडिया, बुद्धिजीवी 70 वर्षो तक।। तबलीगी जमात, उलेमा हिन्द, जमीयत ए इस्लामी, PFI जैसे कट्टरपंथी संगठनों पर पर्दा डालकर इनकीं असलियत छुपाते रहे। ============= पाकिस्तान से नहीं बल्कि भारत से ऑपरेट कर ...

  • मुस्लिम जिहाद की शिकार एक मासूम जिसने "दीपक त्यागी" को बदल दिया "यति नरसिंहानन्द सरस्वती" में

    मैं यति नरसिंहानंद सरस्वती डासना देवी मन्दिर का महंत हूँ। आज आप लोगो को वो कहानी सुनाना चाहता हूँ जिसने मुझे हिन्दू बनाया। मेरे जैसे लोगो की कहानिया कभी पूरी नहीँ होती क्योंकि जीवन हम जैसो के लिए बहुत क्रूर होता है। मेरी बहुत इच्छा है कुछ किताबें लिखने की पर शायद ये कभी नहीँ हो सकेगा क्योंकि हमारे...

  • श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ जैन भैरव मंदिर, बाड़मेर राजस्थान

    जिला बाड़मेर राजस्थान के बालोतरा रेलवे स्टेशन से 13 किलोमीटर एवं मेवाड़ सिटी से 1 कि॰मी॰ दूर पर्वतीय श्रृंखलाओं के मध्य स्थित है विश्वविख्यात जैन तीर्थ श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ। इस तीर्थ क्षेत्र के आस पास का इतना प्राकृतिक और मनोहर है कि कोई भी सम्मोहित हो जाए। यह भारत के जैन समुदाय के सबसे महत्वपूर्ण ...

  • भारत में CoronaVirus से अधिक खतरनाक है Secularism का Virus

    भारत में सबसे खतरनाक वायरस सेक्युलरिज्म है। जो CoronaVirus से हजार गुना अधिक खतरनाक है। भारत का सेक्युलरिज्म वायरस दुनिया के लिए आतंक बन चुके CoronaVirus के विरुद्ध लड़ाई में सबसे बड़ी बाधा बन सकता है। दिल्ली में हाई अलर्ट है। दिल्ली सरकार ने स्कूल, सिनेमाघर बन्द करने के आदेश दे दिए है। आईपीएल (IPL)...

  • CoronaVirus को मात देगा नमस्ते, नमस्कार और हिंदू अभिवादन पद्धतियाँ

    'नमस्ते' दोनों हाथों की हथेलियों को मिला कर किया जाने वाला अभिवादन अर्थात 'भारतीय नमस्कार' आज पूरी दुनिया के लिए बचाव का एक तरीका बन गया है। 'CoronaVirus के प्रसार से बचाव के लिए डोनाल्ड ट्रंप ने भारत की परंपराओं को याद किया।' चीन, इटली से लेकर साउथ कोरिया सहित कई देशों में कोरोना वायरस का कहर बना हु...

  • बृहदीश्वर शिवमंदिर - भारतीय वास्तुशिल्प की गौरव गाथा का शंखनाद

    बृहदीश्वर शिवमंदिर पिछले एक हजार वर्षों से चमत्कारिक प्राचीन भारतीय वास्तुशिल्प विज्ञान की गौरव गाथा सुना रहा है...चेन्नई से 310 कि.मी. दूर तंजावुर (तंजौर) में कावेरी नदी के तट पर स्थित बृहदीश्वर शिव मंदिर पिछले 1000 वर्षों से प्राचीन भारतीय वास्तुशिल्प विज्ञान की गौरव गाथा का शंखनाद कर रहा है। इस श...

  • शिवरात्रि विशेष : देवादिदेव महादेव के 35 जाने - अनजाने रहस्य

    भगवान शिव अर्थात पार्वती के पति शंकर जिन्हें महादेव, भोलेनाथ, आदिनाथ आदि कहा जाता है, उनके बारे में यहां प्रस्तुत हैं 35 रहस्य। 1. आदिनाथ शिव : - सर्वप्रथम शिव ने ही धरती पर जीवन के प्रचार-प्रसार का प्रयास किया इसलिए उन्हें 'आदिदेव' भी कहा जाता है। 'आदि' का अर्थ प्रारंभ। आदिनाथ होने के कारण उनका एक ...

Share it