Top

International

  • भारत 8वीं बार UN सुरक्षा परिषद में अस्थाई सदस्य बना, अमेरिका ने बधाई दी

    संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के गैर-स्थायी सदस्य के तौर पर चुना जाना भारत के लिए बड़ी कूटनीतिक जीत है, बुधवार को पांच गैर-स्थायी सदस्यों के लिए चुनाव हुए जिसमें भारत को 192 वैध वोटों में से 184 वोट से जीत मिली। भारत को 8 वीं संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के रूप में बार चुना गया है। ...

  • हमें गर्व है वे मारते-मारते मरे है, हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा : मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को देश को भरोसा दिलाया कि लद्दाख की गैलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प के दौरान शहीद हुए 20 भारतीय सेना के जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। 'मैं राष्ट्र को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। भारत शांति चाहता है...

  • New York : Bronx के चिड़ियाघर में एक बाघ CoronaVirus से संक्रमित पाया गया

    वाइल्डलाइफ कंजर्वेशन सोसाइटी की ब्रोंक्स एक्सयू द्वारा जारी एक समाचार विज्ञप्ति में बताया गया कि 4 साल की 'मलेशियन' मादा बाघ जिसका नाम नादिया है को सूखी खांसी होने के बाद की गई जांच में उसे Corona से संक्रमित पाया गया और उसके ठीक होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि अमेरिका सहित पूरे विश्व में...

  • बारिश का हर्जाना टीम इण्डिया और फेंस को क्यों पड़ा चुकाना ?

    सभी मैचों में इतना अच्छा प्रदर्शन करने के बाद भी आज टीम इण्डिया को वर्ल्ड कप 2019 के सेमी-फ़ाइनल में अनचाही हार का सामना कराते हुये खाली हाथ वापस ही आना पड़ा। पर क्या वाकई इसको टीम इण्डिया की हार कहना सही होगा ? जी नहीं। क्रिकेट में हार आज इण्डिया की नहीं बल्कि आईसीसी की हुई है, जो आज 21वीं सदी में एक ...

  • अंतर्राष्ट्रीय संबंधो में अमेरिका और भारत पर उसका असर

    हमेशा से ही भारत ही नहीं बल्कि सभी देशों के अंतर्राष्ट्रीय संबंधो में अमेरिका सबसे महत्वपूर्ण रहा है। भारत के लिए अमेरिका का प्रभाव हाल ही में अफगानिस्तान और ईरान के साथ संबंधो में ज्यादा है। पहले बात करें ईरान की तो पिछले साल अमेरिका-ईरान के बीच नयूक्लिर ट्रीटी को लेकर विवाद हुआ और ट्रीटी को रद्द...

  • नोटबंदी : जाली नोटों का सूत्राधार कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व ?

    दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला खुलेगा 2019 के बाद, जो शायद दुनिया मे कहीं नहीं हुआ होगा और इस महाघोटाले का मुख्य अभियुक्त है चिदंबरम !! इसको पढ़िए की क्यों किया गया अचानक नोटबन्दी का फैसला और क्यों टूट गयी पाकिस्तान की अर्थव्यस्था। सबूत भी बाहर आएंगे जांच हो रही है इसको पढ़ के आपके पैर के नीचे से ज़मीन खिसक ...

  • फानी से निपटने के लिए सरकार ने उठाए शानदार कदम, संयुक्त राष्ट्र ने भी की तारीफ

    भारत को अभी तूफान फानी से निपटे एक ही दिन बीता है और इसी के साथ आज भारत की पूरी दुनिया के सामने सरहना की जा रही है। भारत ने जिस सटीकता के साथ इस तूफान से अपने लोगों को बचाया है उसको देख आज दुनिया भर के सभी देश हैरान है। इतना ही नहीं दुनिया भर की प्राकृतिक आपदाओं पर निगाह रखने वाली संयुक्त राष्ट्र की ...

  • एक अजूबा : 7 साल की भारतीय बच्ची संयुक्त राष्ट्र को करेगी संबोधित

    अजूबे तो अपने बहुत देखे होंगे परंतु आज जो अजूबा हम आपके लिए लाए है वो आपके दिल को गहराई तक प्रेरित कर देगा। हम बात कर रहे है एक 7 साल की बच्ची लिसिप्रिया कंगुजम (Licypriya Kangujam) की। लिसिप्रिया उम्र से तो बच्ची है परंतु इनके काम बड़े बड़े लोगों के लिए प्रेरणादायक है। आपको बता दें कि मात्र 7 वर्ष की ...

  • अगस्ता वेस्टलैंड मामला: क्रिश्चियन मिशेल ने लिया सोनिया गांधी का नाम

    प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को दिल्ली की पटियाला अदालत को बताया कि अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर मामले में मुख्य आरोपी क्रिश्चियन मिशेल ने पूछताछ के दौरान 'श्रीमती गांधी' का नाम लिया है, लेकिन उनके बयान का संदर्भ स्पष्ट नहीं था। मिशेल ने 'इतालवी महिला के बेटे' के बारे में भी बात की और कहा...

  • "धिम्मियों" का नया चेहरा सिद्धू

    शेख अहमद दीदात ने 'क्राइस्ट इन इस्लाम' नाम से एक बड़ा मशहूर लेक्चर दिया था जिसने पश्चिमी ईसाई जगत और अफ्रीका में ईसाईयों के बीच दावत की राह आसान कर दी थी। दीदात का वो मशहूर लेक्चर मेरे पास भी है। सवा घंटे के उस लेक्चर और उसके बाद पैंतालीस मिनट तक चले सवाल-जबाब सत्र में दीदात ने सामने बैठे ईसाई श्रोत...

  • 15 अगस्त: स्वतन्त्रता की खुशी या बँटवारे का दर्द?

    15 अगस्त 1947 भारत की आजादी का दिन था. हमें आजादी मिली, उस खुशी को आज भी हम हर साल आजादी के दिन के रूप में मनातें हैं पर इस खुशी को मनाते हुये हममें से कितने लोग हैं जिनके मन में कोई वेदना होती है, कोई पीड़ा होती है? किसी का भी स्वाभाविक प्रश्न होगा कि आजादी के दिन कोई वेदना या कोई पीड़ा क्यों हो? पर...

  • कैसा जश्न? कैसी स्वतंत्रता? 15 अगस्त 1947!

    असली जायज़ जश्न होता है 14 अगस्त को पाकिस्तान में। हाँ, उन्होंने पाकिस्तान को भारत से छीना था, 14 अगस्त 1947 को। सामूहिक भारत की कुल 20 % आवादी ने भारत का 35 से 40 प्रतिशत हिस्सा भारत से छीन लिया था..उनके पास जिन्ना था। हमारे पास हिजड़े थे... 50 लाख सनातन हत्याएं हुईं (नरेंद्र कोहली के शब्दों में) ला...

Share it