Top

कांग्रेस से मणिशंकर का निलंबन : गुजरात चुनाव पर असर का डर या मात्र दिखावा

कांग्रेस से मणिशंकर का निलंबन : गुजरात चुनाव पर असर का डर या मात्र दिखावा

नई दिल्ली 7 दिसंबर : मणिशंकर अय्यर ने आज भाषा की सभी सीमाएं पर कर देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पर बहुत ही अभद्र टिप्पणी कर गुजरात चुनाव में कांग्रेस की राह में कांटे बिखेर दिये हैं। प्रैस से बात करते समय अय्यर ने PM मोदी को 'नीच आदमी' जैसा असभ्य शब्द कह कर जहां एक तरफ अपनी ओछी मानसिकता का प्रदर्शन किया, वहीं गुजरात चुनाव में कांग्रेस के चुनावी समीकरण को भी खतरे में डाल दिया। यूं तो मणिशंकर हों या दिग्विजय सिंह गाहे-बगाहे अपने उल्टे बयानों से कांग्रेस को मुसीबत में डालते ही रहते हैं लेकिन आज से पहले कभी कांग्रेस अध्यक्ष/उपाध्यक्ष ने उनके ऊपर कोई कार्यवाही करने की नहीं सोची।

लेकिन वर्तमान में गुजरात चुनाव कांग्रेस के लिए जीवन-मरण का प्रश्न बना हुआ है इस कारण राहुल गांधी भली भांति जानते हैं कि अय्यर द्वारा मोदी के लिए प्रयोग किए गए ये दो शब्द मोदी के गुजरात में कांग्रेस को कहाँ तक क्षति पहुंचा सकते हैं? इसी कारण पार्टी के सभी शीर्षस्थ नेता अय्यर के शब्दों द्वारा होने वाली हानि के असर को कम करने के उपायों में लग गए।

इसी दबाब के चलते कांग्रेस में वो देखने को मिला जो इससे पहले शायद ही कभी हुआ हो उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पहली बार मणिशंकर अय्यर के ऊपर माफी मांगने का दबाव बनाया। राहुल ने मणिशंकर को माफी मांगने को कहा था जिसके बाद अय्यर ने यह कहते हुए माफी मांगी कि हिंदी भाषी नहीं होने की वजह से उन्होंने 'नीच' शब्द का इस्तेमाल कर दिया।

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार गांधी माफी मांगने के श्री अय्यर के तरीके से संतुष्ट नहीं हैं और इसी वजह से उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित करने के साथ ही कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ही राजधानी में डॉ. अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय केन्द्र के उद्घाटन के मौके पर अपने संबोधन में कांग्रेस और नेहरू-गांधी परिवार का नाम लिये बगैर आरोप लगाया कि 'एक परिवार' को आगे बढ़ाने के लिए संविधान निर्माता डा. भीमराव अम्बेडकर का नाम और काम मिटाने का प्रयास किया गया। उन्होंने राहुल गांधी को भी जवाब देते हुए कहा अब उन्हें बाबा साहेब की जगह 'बाबा भोले' याद आ रहे हैं।
इस पर श्री अय्यर ने कहा था कि बाबा साहेब अंबेडकर के सपनों को साकार करने में सबसे बड़ा योगदान पंडित जवाहरलाल नेहरू का रहा है और श्री मोदी ऐसे परिवार के बारे में 'गंदी' बातें कर रहे हैं और वह भी डा. अंबेडकर की याद में बनायी गयी इमारत का उद्घाटन करते समय। उन्होंने श्री मोदी पर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए कहा "यह बहुत नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है। ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है।"

Share it