Breaking News

पर्यटन मंत्रालय द्वारा Virtually मनाया गया राष्ट्रीय पर्यटन दिवस

पर्यटन मंत्रालय द्वारा Virtually मनाया गया राष्ट्रीय पर्यटन दिवस

पर्यटन मंत्रालय द्वारा Virtually मनाया गया राष्ट्रीय पर्यटन दिवस

भारत की विविधता एवं प्राकृतिक सुंदरता की सराहना करने और पर्यटन के महत्व और अर्थव्यवस्था पर इसके प्रभाव के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 25 जनवरी को पूरे देश में राष्ट्रीय पर्यटन दिवस मनाया जाता है।

इस वर्ष देश में कोविड -19 की Omicron के रूप में नई लहर को देखते हुए भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय पर्यटन दिवस को Virtually (online) मनाने का निर्णय लिया गया। इससे पहले, पर्यटन मंत्रालय ने आज पोचमपल्ली, तेलंगाना में एक भव्य राष्ट्रीय पर्यटन दिवस कार्यक्रम की घोषणा की थी। ज्ञात हो कि पिछले सप्ताह केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी Covid संक्रमित हो गए थे। एक आधिकारिक विज्ञप्ति में पर्यटन मंत्रालय ने घटना द्वारा बताया गया था कि कोरोना के बढ़ते हुये प्रकोप के कारण ही ये निर्णय लिया गया।

इस अवसर पर केंद्रीय पर्यटन मंत्री श्री जी. किशन रेड्डी ने राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के इस आभासी समारोह की अध्यक्षता की। यह कार्यक्रम भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूर्ण होने पर माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए 'आजादी का अमृत महोत्सव' को समर्पित था।


इस अवसर पर उपस्थित अन्य गणमान्य व्यक्तियों में चार केंद्रीय सचिव श्री उपेंद्र प्रसाद सिंह (सचिव, कपड़ा मंत्रालय), श्रीमती लीना नंदन (सचिव, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय), श्री अरविंद सिंह (सचिव, पर्यटन मंत्रालय), श्री गोविंद मोहन (सचिव, संस्कृति मंत्रालय), राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के महानिदेशक श्री जी. अशोक कुमार ने भी चर्चा में भाग लिया। महिंद्रा समूह के अध्यक्ष श्री आनंद महिंद्रा और विश्व खोजकर्ता और मोटरसाइकिल साहसी कर्नल मनोज केश्वर भी दो घंटे तक चलने वाले इस वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल हुए।

राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के लिए इस वर्ष की थीम 'ग्रामीण और सामुदायिक केंद्रित पर्यटन' है। पर्यटन मंत्रालय 'आजादी का अमृत महोत्सव' के तत्वावधान में राष्ट्रीय पर्यटन दिवस मना रहा है, जो भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर 75 सप्ताह का भव्य उत्सव है। पर्यटन मंत्रालय इस दिन को चिह्नित करने के लिए संस्कृति, कपड़ा, नागरिक उड्डयन और रेलवे जैसे अन्य केंद्रीय मंत्रालयों के साथ भी साझेदारी कर रहा है। क्योंकि पर्यटन के समग्र विकास के लिए कनेक्टिविटी, संस्कृति, कला, शिल्प और वस्त्र का आपसी संबंध अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। .

सोमवार को पर्यटन मंत्रालय ने इंडियन टूरिज्म इलस्ट्रेटेड क्विज का अनावरण किया। प्रश्नोत्तरी का उद्देश्य भारत के विभिन्न पर्यटन उत्पादों, वास्तुकला, संस्कृति और व्यंजनों का प्रदर्शन करना और देश के भीतर उपलब्ध पर्यटन के अवसरों के बारे में ज्ञान का परीक्षण करना है।

एक आभासी सम्मेलन के अलावा, मंत्रालय ने राष्ट्रीय पर्यटन दिवस को यादगार बनाने के लिए भारत में 75 पर्यटन स्थलों पर (ऐसे स्थल जिनकी जानकारी पर्यटकों को कम है) 'एक पोस्टर डिजाइन प्रतियोगिता, कॉलर ट्यून प्रतियोगिता, चित्र प्रश्नोत्तरी और 'अनसीन इंडिया' पर एक लेखन प्रतियोगिता आयोजित करेगा। ये गतिविधियाँ पूरे प्रत्येक व्यक्ति के लिए खुली हैं और विजेताओं को रोमांचक पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने पिछले महीने कहा था कि केंद्र ने फरवरी के अंतिम सप्ताह में या तो तेलंगाना के रामप्पा मंदिर परिसर में (जिसे हाल ही में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में घोषित किया गया था) या फिर वारंगल में मंदिर वास्तुकला पर एक अखिल भारतीय सम्मेलन आयोजित करने का फैसला किया है।


Share it