Top

मसाला किंग "एमडीएच मसाला" के मालिक "महाशय धर्मपाल गुलाटी" का आज सुबह 98 वर्ष की आयु में निधन

मसाला किंग एमडीएच मसाला के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का आज सुबह 98 वर्ष की आयु में निधन

मसाला किंग कहे जाने वाले "एमडीएच मसाला" के मालिक "महाशय धर्मपाल गुलाटी" ने 1959 में आधिकारिक तौर पर कंपनी की स्थापना की और "एमडीएच मसाला" को एक ब्रांड के रूप में लॉन्च किया

मसाला किंग कहे जाने वाले "एमडीएच मसाला" के मालिक "महाशय धर्मपाल गुलाटी" का आज गुरुवार सुबह 98 वर्ष की आयु में निधन हो गया। सूत्रों के अनुसार, गुलाटी का पिछले तीन सप्ताह से दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज प्रातः उन्हें "कार्डियक अरेस्ट" हुआ जिस कारण सुबह 5.30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली।

धर्मपाल गुलाटी का जन्म 1923 में पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ था। समाज में वह 'दलाजी' और 'महाशयजी' के नाम से भी जाने जाते थे। परिवार के अनुसार गुलाटी का मन पढ़ने में नहीं लगता था, जिस कारण से उन्होंने स्कूल की पढ़ाई को बीच में ही छोड़ दिया था, धर्मपाल गुलाटी ने शुरुआती दिनों में अपने पिता के मसाले के कारोबार में शामिल हो गए।

1947 में विभाजन के बाद जब अन्य शरणार्थियों के साथ गुलाटी परिवार पाकिस्तान से भारत आया, तो उन्हें अमृतसर के एक रिफ्यूजी कैंप में रखा गया।

इसके बाद काम की तलाश में वह दिल्ली चले गए जहाँ करोल बाग में एक स्टोर खोला। गुलाटी ने 1959 में आधिकारिक तौर पर कंपनी की स्थापना की और "एमडीएच मसाला" को एक ब्रांड के रूप में लॉन्च किया। उनका यह व्यवसाय इतना फैला कि आज केवल भारत में ही नहीं उनकी कंपनी भारतीय मसालों का निर्यात दुनिया के विभिन्न हिस्सों में करती है, जिसमें यूके, यूरोप, यूएई, कांडा आदि शामिल हैं।

धर्मपाल गुलाटी को 2019 में देश के तीसरे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। इसके साथ ही उन्हें समाज के विभिन्न प्रतिष्ठित सम्मनो से भी सम्मानित किया गया।

Share it