"DARPAN" योजना से होगा ग्रामीण डाकघरों का डिजिटलीकरण

DARPAN योजना से होगा ग्रामीण डाकघरों का डिजिटलीकरणCommunication Minister Sh. Manoj Sinha to launched DARPAN Project for Digitalization Rural Post Office

नयी दिल्ली 21 दिसंबर (समाचार स॰) : देश के ग्रामीण डाकघरों को डिजिटल बनाने की दिशा में डाक विभाग ने एक और कदम बढ़ाया। इस कार्य के लिय डाक विभाग ने ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित 1.29 लाख डाकघरों के डिजिटलीकरण के लिए 1,400 करोड़ रुपये की लागत से डिजिटल एडवांस्मेंट ऑफ रूरल पोस्ट ऑफिस फॉर ए न्यू इंडिया (DARPAN) योजना आरंभ करने की घोषणा की है।

आज नई दिल्ली में डाक विभाग द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में संचार राज्यमंत्री (स्तंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा योजना का शुभारंभ करते हुये कहा कि देश में 1.55 लाख डाकघर हैं जिसके 90% ग्रामीण क्षेत्रों में हैं जिनका डिजिटलीकरण अतिआवश्यक है। इस कार्य के लिए दूरसंचार कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड (TCIL) इस योजना को क्रियान्वित कर रही है एवं इसके प्रथम चरण के पूरा होने के बाद से अब तक 47 हजार ग्रामीण डाकघरों को डिजिटलीकृत किया जा चुका है व शेष डाकघरों के डिजिटलीकरण को पूरा करने का कार्य 31 मार्च 2018 तक कर दिया जायेगा।
उन्होंने कहा कि DARPAN का उद्देशय ग्रामीण क्षेत्र के प्रत्येक डाकघर को कम ऊर्जा खपत वाले प्रौद्योगिकी समाधान उपलब्ध कराना है। इसके अलावा सभी डाकिये को हैंडहेल्ड डिवाइस भी उपलब्ध कराये जायेंगे ताकि इसके जरिये वित्तीय समावेशन के लक्ष्य को हासिल किया जा सके।
श्री सिन्हा ने कहा कि दर्पण योजना से डाकघरों के जरिये मनी ऑर्डर को सरल और सुगम बनाने के साथ ही बचत बैंक से संबंधित सेवायें, ग्रामीण डाक जीवन बीमा के विस्तार और नकद पत्रों की बिक्री में मदद मिलेगी। इससे खुदरा डाक कारोबार बढ़ाने में भी सहायता होगी।


उन्होंने कहा कि मार्च 2018 तक इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की 650 शाखायें शुरू हो जायेगी और तब दर्पण योजना का अधिकाधिक लाभ होगा। ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी लाभों के साथ ही विभिन्न योजनाओं के डिजिटल भुगतान को गति मिलेगा।
इस अवसर पर योजना का नाम और लोगो निर्धारित करने के लिए आयोजित प्रतियोगिता के तीन विजेताओं को मंत्री महोदय द्वारा पुरस्कार देकर सम्मानित किया एवं योजना के LOGO भी लॉन्च किया।



Share it
Top