Top

केरल: उत्तर भारतीय शाकाहारी छात्रों को इंजिनियरिंग कॉलेज में परोसा 'बीफ कटलेट'

केरल: उत्तर भारतीय शाकाहारी छात्रों को इंजिनियरिंग कॉलेज में परोसा बीफ कटलेट“कोचीन विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय” के कॉलेज आफ इंजीनियरिंग परिसर में उत्तर भारतीय शाकाहारी "हिन्दू" छात्रों को परोसा गया "बीड कटलेट"

केरल के कुत्तनाद में "कोचीन विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय" के कालेज आफ इंजीनियरिंग परिसर के शाकाहारी हिन्दू छात्रों ने कॉलेज प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उत्तर भारत के इन छात्रों ने अलप्पुझा के मजिस्ट्रेट को पत्र लिखकर कॉलेज के खिलाफ उनकी धार्मिक भावनाएं आहत करने की शिकायत की है।
इस घटना से प्रभावित छात्रों का कहना है कि वे शुद्ध शाकाहारी हैं लेकिन उन्हें धोखे से बीफ वाला कटलेट खिला दिया गया, छात्रों ने आरोप लगाया है कि उनके साथ ऐसा व्यवहार उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए किया गया।
"कोचीन विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय" के कॉलेज आफ इंजीनियरिंग परिसर में रह रहे बिहार के छात्रों ने घटना के बारे में कल संवाददाताओं से बात करते हुए बताया कि पूरी घटना 25 जनवरी की है जब पुलिनकुन्नू स्थित कालेज में एक सेमिनार का आयोजन किया गया था। जिसमें खानपान की भी व्यवस्था थी इसी दौरान यह "बीफ कटलेट" उन्हें खाने को दिया गया।
सूत्रों के अनुसार अंगित कुमार और हिमांशु कुमार ने आरोप लगाया कि उन्हें बताया गया कि कटलेट को उनके लिए सब्जी के तौर पर दिया गया था। कटलेट शाकाहारी है या नहीं इस बारे में जब छात्रों ने पूछा तो उनसे कहा गया कि कटलेट शाकाहारी है, छात्रों के द्वारा बार-बार पूछे जाने के बावजूद कालेज के अधिकारियों ने उन्हें बताया कि कटलेट को सब्जियों से ही बनाया गया है। इसके बाद छात्रों ने उसे खाया। अंगित ने बताया कि जब उन्होंने कटलेट खाया तो उन्हें उसके मांसाहारी होने के बारे में शक हुआ। बाद में दूसरे छात्रों से पता चला कि उन लोगों को परोसा गया कटलेट बीफ से बना हुआ था।
इस घाटन से भड़के छात्र पूरे मामले की शिकायत लेकर जिला अधिकारी के पास गए और अपनी शिकायत दर्ज करवाई। छात्रों का आरोप है कि इस सब की जानकारी कॉलेज के प्रिंसिपल को थी, बावजूद इसके ऐसा हुआ है। छात्रों का सीधा आरोप है कि कॉलेज का उद्देश्य जानबूझकर उनकी धार्मिक भावनाओं को आहत करना था।
इस धोखे से पीड़ित छात्रों में बीफ कटलेट खाने के बाद अधिकांश छात्र बीफ खाने की बात को लेकर मानसिक तनाव में हैं, जब छात्रों को ये ज्ञात हुआ कि उन्होंने धोखे से बीफ खाया है तो कुछ छात्रों ने तुरंत उल्टी करने की कोशिश भी की।
छात्रों ने लिखित रूप से यह भी शिकायत की है कि इससे पहले कॉलेज के प्रिंसिपल संस्थान के अंदर सरस्वती पूजा को बंद करने के लिए नोटिस भेजा था। इन आरोपों के बाद डीएम से छात्रों ने कार्रवाई की मांग की है।

Share it