Top

ITC की सहायता से COVID-19 रोगियों हेतु "रिकॉर्ड 72 घंटे में 200 बेड अस्पताल" तैयार

ITC की सहायता से COVID-19 रोगियों हेतु रिकॉर्ड 72 घंटे में 200 बेड अस्पताल तैयार

ITC की सहायता से COVID-19 रोगियों हेतु "रिकॉर्ड 72 घंटे में 200 बेड अस्पताल" तैयार

COVID-19 के रोगियों की बढ़ती संख्या को देखते हुये आईटीसी कोलकाता में 200 बेड का कोविड देखभाल एवं चिकित्सा सुविधा अस्पताल स्थापित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है।

कार्यकारी अस्पताल की स्थापना सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, कोलकाता द्वारा किया जाएगा। COVID-19 प्रभावित रोगियों के इलाज के लिए यह एक अस्थायी हॉस्पिटल होगा जिसका प्रबंधन पूरी तरह से मेडिका सुपरस्पेशलिटी अस्पताल ही देखेगा।

इसके निर्माण के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने कोविड-संक्रमित रोगियों के उपचार के लिए अस्थायी अस्पताल के रूप में कोलकाता के किशोर भारती स्टेडियम के उपयोग की अनुमति दी है।

Corona महामारी की दूसरी व तीसरी लहर के कारण देश में पैदा हुये अभूतपूर्व चिकित्सा संकट के परिणामस्वरूप चिकित्सा सुविधाओं की मांग में तेजी आई है। कोविद -19 के रोगियों की संख्या में अचानक हुई बढ़ोत्तरी के कारण उनके उपचार के लिए अस्पतालों में बिस्तरों की उपलब्धता में तीव्र कमी आई है।

यह भी पढ़ें: हिंदी न्यूज़ जगत के साहसी एवं दबंग पत्रकार रोहित सरदाना की COVID-19 के कारण गई जान

ITC के प्रबंधन ने विनम्रता के साथ कहा कि आईटीसी को खुशी है कि COCID-19 पॉजिटिव रोगियों के उपचार और टीके लगाने के लिए मेडिका सुपरस्पेशलिटी अस्पताल द्वारा कोलकाता में 200 से 300 बिस्तर की चिकित्सा सुविधा का अस्पताल स्थापित करने एवं कोविड स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता बढ़ाने में योगदान देने का अवसर मिला है।

इस अस्थायी अस्पताल को स्थापित करने की सहायता के तहत, आईटीसी इस के लिए मेडिका को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी, इस में प्रारंभिक चिकित्सा आपूर्ति की व्यवस्था सहित अन्य सभी आवश्यक समान जैसे "फर्नीचर, बेड, ऑक्सीजन, एयर कंडीशनर" आदि सहित अन्य जरूरी सुविधाओं की उपलबद्धता में आने वाली लागत शामिल होगी।

यह भी पढ़ें: अस्पताल द्वारा ऑक्सीजन की मांग पर, दिल्ली सरकार का अस्पताल के ही विरूद्ध कार्रवाई का आदेश

ज्ञात हो आईटीसी द्वारा अन्य राज्य सरकारो के साथ भी सहयोग प्रदान कर रहा है। ITC की तेलंगाना के भद्राचलम स्थित पेपरबोर्ड इकाई ने राज्य के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति शुरू कर दी है।

देश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति में आ रही कमी को देखते हुये आईटीसी oxygen concentrators और जनरेटर आयात करने का है। इसके साथ ही चिकित्सा ऑक्सीजन की आपूर्ति के परिवहन में आ रही बाधाओं को कम करने के लिए आईटीसी लिमिटेड ने पिछले हफ्ते घोषणा की कि 'औद्योगिक गैसों की निर्माता Linde India' के साथ सहयोग के द्वारा वह अन्य एशियाई देशों से 20 टन के 24 क्रायोजेनिक आईएसओ कंटेनरों का आयात कर करेगी।

Share it