नेट न्यूट्रैलिटी पर 28 नवंबर को सिफारिशें देगा ट्राई

नेट न्यूट्रैलिटी पर 28 नवंबर को सिफारिशें देगा ट्राई

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) नेट न्यूट्रैलिटी के चर्चित मुद्दे पर मंगलवार को अपनी सिफारिशें जारी करेगा. इस मुद्दे पर आपरेटरों और ऐप प्रदान करने वालों के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा है.
ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने कहा, 'हम नेट न्यूट्रैलिटी पर कल सिफारिशें जारी करेंगे.' वह यहां फोन कॉल और डेटा सेवा प्रदान करने के लिए इन-फ्लाइट कनेक्टविटी (आईएफसी) पर खुली चर्चा के मौके पर संवाददाताओं से अलग से बातचीत कर रहे थे.'
उन्होंने कहा कि आईएफसी पर सिफारिशें दस दिन में जारी की जाएंगी. नेट न्यूट्रैलिटी के समर्थक इस सिद्धांत का समर्थन कर रहे हैं कि समूचा इंटरनेट ट्रैफिक सभी के लिए समान शर्तों पर बिना किसी भेदभाव के उपलब्ध होना चाहिए. ट्राई की सिफारिशें ऐसे समय आ रही हैं जबकि नेट न्यूट्रैलिटी पर वैश्विक स्तर पर बहस छिड़ी हुई है.
अमेरिकी नियामक फेडरल कम्युनिकेशंस कमीशन ने हाल में कहा है कि उसकी योजना अमेरिका में 2015 में अपनाए गए नेट न्यूट्रैलिटी नियमों को वापस लेने की है.
ओवर द टॉप सेवा प्रदाता, जो कि इंटरनेट के जरिए कॉल और संदेश सेवा मसलन व्हॉट्स एप, स्काइप और वाइबर की पेशकश कर रहे हैं के बारे में पूछे जाने पर शर्मा ने कहा कि नेट न्यूट्रैलिटी पर सिफारिशों से ओटीटी और वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल (वीओआईपी) से जुड़े कुछ मुद्दों का जवाब मिल सकेगा.

Share it
Top