पुलवामा: सेना ने तीसरे आतंकी को भी किया ढेर, फिदायीन ऑपरेशन समाप्त

Pulvama Attack Third Militant Also KilledPulvama Attack Third Militant Also Killed

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में 36 घंटे तक चली मुठभेड में जैश-ए-मोहम्मद के तीसरे आतंकवादी के मारे जाने के बाद अाज तलाशी अभियान समाप्त हो गया, इस हमले में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के पांच जवान शहीद हो गये और तीन अन्य घायल हो गये थे।
पुलिस महानिदेशक एस पी वैद्य ने बताया कि तीसरा आतंकवादी पुलवामा के लेठोपुरा सीआरपीएफ शिविर में छिपा हुआ था और आज मुठभेड के दौरान मारा गया। इसी के साथ 36 घंटों तक चला तलाशी अभियान भी समाप्त हो गया।
डॉ. वैद्य ने ट्विटर पर लिखा, " तीसरे आतंकवादी का शव मिलने के साथ ही आखिरकार तलाशी अभियान समाप्त हो गया।"
आधिकारिक सूत्रों ने यूनीवार्ता को बताया कि कल देर रात तलाशी अभियान रोक दिया गया था, हालांकि सुरक्षा बलों को पूरे इलाके में तैनात कर पूरी तरह घेराबंदी कर दी गयी थी ताकि आतंकवादी बच कर निकल न सकें।
स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्होंने रात में रूक- रूक कर होती रहीं गोलीबारी की आवाजें सुनीं। सुरक्षाबलों ने लेथपाेरा में सीआरपीएफ की तरफ जाने वाले सभी मार्गों को बंद कर दिया है। सुबह होते ही सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया था। शिविर में छिपे तीसरे आतंकवादी के मारे जाने के बाद तलाशी अभियान समाप्त हो गया।
गौरतलब है कि सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों के खिलाफ कल सुबह अभियान उस समय शुरू किया जब आतंकवादियों के एक समूह ने लेथपोरा में सीआरपीएफ की 185वीं बटालियन के शिविर पर ग्रेनेड से हमला कर दिया। जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने शिविर के मुख्य द्वार पर ग्रेनेड और स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी की। इस हमले में पांच जवान शहीद हो गये और तीन घायल हो गये। आतंकवादियों के शव बरामद कर लिये गये हैं। उनकी शिनाख्त जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों के रूप में की गयी है।
सुरक्षाकरणों से जिले में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गयी हैं और दक्षिण कश्मीर से होकर जाने वाली रेल सेवाएं भी फिलहाल बंद है। अधिकारियों ने बडगाम-श्रीनगर और बनियाह के बीच रेल सेवाएं निलंबित कर दी है।

Share it
Top